Posts

देश का ध्यान राम मंदिर में था उधर भगोड़े विजय माल्या की फाइल के दस्तावेज गायब, 20 अगस्त तक टली सुनवाई

Image
अवमानना केस में विजय माल्या के खिलाफ आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई नहीं हो सकी। दस्तावेज गायब होने के कारण शीर्ष अदालत ने इकी सुनवाई 20 अगस्त तक के लिए टाल दी। भगोड़े शराब कोराबोरी विजय माल्या केस   की सुनवाई आज सुप्रीम कोर्ट   में नहीं हो पाई। दरअसल, माल्या के केस से जुड़े दस्तावेज फाइल से गायब होने के कारण शीर्ष अदालत को यह सुनवाई टालनी पड़ी। बता दें कि माल्या इस समय लंदन में रह रहा है।
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के उल्लंघन के कारण सुप्रीम कोर्ट की अवमानना मामले में विजय माल्या की पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई बीस अगस्त के लिए टाल दी गई है। तीन साल पहले माल्या ने पुनर्विचार याचिका दायर की थी जो सुनवाई के लिए अब लिस्ट हुई।
माल्या 2017 में सुप्रीम कोर्ट की अवमानना का दोषी ठहराया गया था, माल्या ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ जाकर अपनी संपत्ति अपने परिवार के नाम ट्रांसफर कर दी थी।  अदालत ने पिछली सुनवाई में अपनी ही रजिस्ट्री से स्पष्टीकरण मांगा था कि मई 2017 के आदेश के खिलाफ माल्या की अपील अदालत के सामने लिस्ट क्यों नहीं की गई है ? कोर्ट ने रजिस्ट्री से उन अधिकारियों का नाम भी पूछा था जो फाइल स…

प्रशांत भूषण के वकील ने SC के अंदर ही खोली जजों की पोल बोले- गोगोई जैसों को राज्यसभा क्यों भेजा जाता है?

Image
जाने-माने वकील प्रशांत भूषण के मामले में सुप्रीम कोर्ट में चल रही बहस के बारे में फेसबुक पर Himanshu kumar लिखते हैं- सर्वोच्च न्यायालय में प्रशांत भूषण के खिलाफ चल रही अवमानना की कार्यवाही के मुकदमे में प्रशांत भूषण के वकील दुष्यंत दवे ने बहुत जबरदस्त बातें कहीं। उन्होंने कुछ जजों के समय में न्यायपालिका में ईमानदारी के अभाव को लेकर जो आम धारणा बनी है उसके बारे में बात करते हुए कहा कि राजनीतिक तौर पर संवेदनशील कुछ मामलों में आए फैसलों से ऐसा लगा है कि न्यायपालिका ने अपनी इज्जत गिराई है।
उन्होंने रंजन गोगोई के बारे में बात करते हुए कहा कि उन्होंने राफेल सीबीआई और अयोध्या मामले में केंद्र सरकार के पक्ष में फैसले दिया और बाद में राज्यसभा की सीट और जेड प्लस सिक्योरिटी की सुरक्षा स्वीकार कर ली इससे लोगों में क्या संदेश गया? वकील दुष्यंत दवे यहीं पर नहीं रुके उन्होंने आगे कहा केवल कुछ ही जजों को राजनैतिक रूप से संवेदनशील मामले क्यों दिए जाते हैं ? जस्टिस नरीमन जैसे जज को ऐसे मामले क्यों नहीं दिए जाते?
इस पर जस्टिस अरुण मिश्रा ने जवाब दिया कि जस्टिस नरीमन कांस्टीट्यूशन बेंच के हिस्सा है जस्ट…

क्या दलित होने के चलते राष्ट्रपति को भूमिपूजन से दूर रखा गया? भागवत किस हैसियत से आमंत्रित

Image
योध्या में भूमि पूजन के साथ ही राम मंदिर की आधारशिला रख दी गई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर की आधारशिला रखी. इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत और श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास मौजूद थे|
लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, उमा भारती जैसे राम मंदिर आंदोलन का नेतृत्व करने वाले प्रमुख चेहरे राम मंदिर के शिलान्यास कार्यक्रम में नदारद थे. समारोह में प्रधानमंत्री, उत्तर प्रदेश के राज्यपाल और मुख्यमंत्री तो शामिल थे, लेकिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आमंत्रित नहीं किया गया, जिस पर सवाल उठने लगे हैं. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का संबंध दलित समुदाय से है. इसलिए लोग ये आरोप लगा रहे हैं कि दलित होने के चलते उन्हें राम मंदिर के भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल नहीं किया गया|
महाराष्ट्र के मंत्री डॉ नितिन राउत ने भी ये सवाल उठाया है. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति जी को राम मंदिर भूमिपूजन कार्यक्रम से क्यों दूर रखा गया है?  क्योंकि वो दलित है? संघ प्रमुख मोहन भागवत की भूमि पूजन कार…

रक्षा मंत्रालय ने कबूला मई से LAC पर लगातार बढ़ रहा है चीन का अग्रेशन लद्दाख में अतिक्रमण भी किया

Image
रक्षा मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर एक डॉक्यूमेंट अपलोड किया है जिसके मुताबिक, लद्दाख के कई इलाकों में चीनी सेना के अतिक्रमण की घटनाएं बढ़ी हैं. साइट पर अपलोड किए गए इस डॉक्यूमेंट में मंत्रालय ने स्वीकार किया है कि मई महीने से चीन लगातार LAC   पर अपना अतिक्रमण बढ़ाता जा रहा है, खासतौर से गलवान घाटी पैंगोंग त्सो गोगरा हॉट स्प्रिंग जैसे क्षेत्रों में|  डॉक्यूमेंट के मुताबिक, चीन ने 17 से 18 मई के बीच लद्दाख में कुंगरांग नाला, गोगरा और पैंगोंग त्सो झील के उत्तरी किनारे पर अतिक्रमण किया है. इसमें कहा गया है कि 5 मई के बाद से चीन का यह आक्रामक रूप LAC पर नजर आ रहा है. 5 और 6 मई को ही पैंगोंग त्सो भारत और चीन की सेना के बीच में झड़प हुई थी|
चीन ने उल्टा भारत से पीछे हटने को कहा है- बता दें कि दोनों देशों के बीच सीमा विवाद के बीच दोनों देश मामले को सुलझाने के लिए सैन्य वार्ताएं कर रहे हैं. इसके तहत भारत और चीन के बीच लेफ्टिनेंट जनरल रैंक के अधिकारियों के बीच बीते रविवार को 5वें दौर की बातचीत हुई थी, जो बेनतीजा रही है|  ऊपर से चीन ने उल्टा भारत को भारतीय जमीन से पीछे हटने को कहा है. जानकारी है …

पेट्रोल पंप में काम करने वाले ने बेटे की पढ़ाई के लिए घर बेच दिया था अब बेटा बना IAS

Image
4 अगस्त, 2020.UPSC (संघ लोक सेवा आयोग) 2019 की सिविल सेवा परीक्षा के नतीजे आए. 829 कैंडिडेट सफल हुए. अब इनमें से कई कैंडिडेट्स के संघर्ष की कहानियां सामने आने लगी हैं. ऐसी ही एक कहानी प्रदीप सिंह की भी है. प्रदीप ने इस परीक्षा में 26वीं रैंक हासिल की है|
पिता पेट्रोल पंप में काम करते थे- वैसे तो प्रदीप का जन्म बिहार में हुआ था, लेकिन बाद में परिवार इंदौर शिफ्ट हो गया. इंदौर में उनके पिता एक पेट्रोल पंप में काम करने लगे. प्रदीप हमेशा से IAS अधिकारी बनना चाहते थे, यानी इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज में जाना चाहते थे. ये बात उनके पिता भी अच्छी तरह से जानते थे. इसलिए अच्छी पढ़ाई और कोचिंग के लिए प्रदीप जून 2017 में दिल्ली आ गए. यहां एक कोचिंग इंस्टीट्यूट जॉइन किया, जिसकी एक साल की फीस डेढ़ लाख रुपए थी. ऊपर से प्रदीप के रहने-खाने के पैसे अलग लगते थे. ऐसे में पिता ने इंदौर का अपना मकान बेच दिया, बिहार के गोपालगंज की पुश्तैनी ज़मीन भी बेच दी, ताकि उनके बेटे के सपने में कोई रुकावट न आए|
प्रदीप ने 2018 की सिविल सेवा परीक्षा में भी 93वीं रैंक हासिल की थी, लेकिन तब उन्हें IAS की बजाए IRS (भार…

ओवैसी का मोदी से सवाल- धार्मिक स्थल चाहे मंदिर हो या मस्जिद सिम्बल ऑफ़ इंडिया कैसे हो सकता है ?

Image
अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास को लेकर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशा’ना सा’धा है. ओवैसी ने कहा कि नरेंद्र मोदी को भूमि पूजन में नहीं जाना चाहिए था. वो किसी खास मजहब के पीएम नहीं हैं| उन्होंने कहा कि पीएम ने संविधान के शपथ का उल्लं’घन किया है|  हिंदुत्व की कामयाबी सेकुलरिज्म की हार है. ये हिंदू राष्ट्र की बुनियाद रखी गई है. ओवैसी ने कहा कि जहां मुसलमानों ने नमाज पढ़ी, उसके लिए सुप्रीम कोर्ट में झू’ठ बोलकर मस्जिद को शहीद किया गया|
ओवैसी ने कहा कि पीएम ने भूमि पूजन को सिंबल ऑफ इंडिया कहा है. देश का सिंबल कोई भी धा’र्मिक जगह (ना मंदिर, ना मस्जिद) नहीं हो सकती है| उन्होंने कहा कि भूमि पूजन कार्यक्रम में RSS चीफ क्यों मौजूद थे? मोहन भागवत का पैगाम मु’सल’मानों को से’केंड क्लास सिटिजन बनाने का है| AIMIM चीफ ने कहा कि पीएम ने 15 अगस्त को आज 5 अगस्त से मिला दिया. मैं पूछना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री ने आज किसे शिकस्त दी है? ये स्वतंत्रता सेनानियों की तौहीन की गई है.
ओवैसी ने कहा कि मैं Co’mm’unal हूं पर मैं सेकुलर पार्टियों से पूछता हूं कि ये brotherhood कैसे…

मनोज तिवारी का नया ड्रामा अमित शाह की फोटो लेकर मंदिर पहुंचे

Image
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद उनको गुरुग्राम के मेदांता हॉस्पिटल ( Medanta Hospital Of Gurugram ) में भर्ती कराया गया है। इस बीच लोगों ने अमित शाह  के अच्छे स्वास्थ्य की दुआ मांगनी शुरू कर दी है। वही, दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के पूर्व अध्यक्ष मनोज तिवारी  ने भी अमित शाह के जल्दी ठीक होने के लिए भगवान से मन्नत मांगी। मनोज तिवारी ने उनके स्वास्थ्य के लिए सोमवार को मंदिर जाकर पूजा-अर्चना की। 
अमित शाह का फोटो हाथ में लेकर मंदिर पहुंचे मनोज तिवारी ने पूरे मंत्रोउच्चारण के साथ पूजा की। प्रधानमंत्री आवास में प्रोटोकॉल का पूरी सख्ताई से पालन सूत्रों ने जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना वायरस की वजह से पिछले कुछ महीने में प्रधानमंत्री आवास में प्रोटोकॉल का पूरी सख्ताई से पालन किया जा रहा है।  इसके लिए तापमान चेक करने से लेकर आरोग्य सेतु का इस्तेमाल के बिना किसी भी अंदर आने या बाहर जाने की अनुमति नहीं थी।
आपको बता दें कि भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी के साथ बढ़ता जा रहा है। अब सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों का सख्ती से पालन करने वाले नेता और अभिन…