Posts

Whatsapp se paisa kaise kamaye in hindi puri jankari

Image
  दोस्तों आज के topic में हम जानेंगे की whatsapp se paisa kaise kamaye in hindi अगर आप भी whatsapp se paisa कमाने का तरीका जानना चाहते हैं तो लेख को पूरा पढ़िए| तो चलिए शुरू करते हैं| दोस्तो whatsapp को आज के दौर में कौन इस्तेमाल नहीं करता है | आज के दौर में हर सख्स के फ़ोन में whatsapp होता है और वो इसका इस्तेमाल करता है | मैं और आप भी whatsapp का प्रयोग करते हैं |\ लेकिन क्या आप जानते हैं की हम whatsapp से भी पैसा कमा सकते हैं | अब आप सोच रहे होंगे की आखिर whatsapp से पैसा कैसे कमाते हैं ? दोस्तों whatsapp आज के समय में बहुत ही ज्यादा प्रचलित हो चुका है और आपकी जान पहचान का हर सख्स आपको whatsapp पर मिल जाता है | इस वजह से ऐसे ढेरों तरीके हैं जिनकी मदद से आप बहुत ही आसानी से इससे whatsapp se paise kaise kamaye सकते हैं | Affiliate marketing whatsapp से ही नहीं बल्कि अगर internet से भी पैसा कमाने की बात की जाय तो affiliate marketing सबसे बेहतरीन तरीका है | दोस्तों अगर आप affiliate marketing के बारे में नहीं जानते हैं तो मैं आपको बता दूं की इसमें आपको बड़ी E-Commerce websites जैसे am

वैक्सीनेशन पर मनीष तिवारी ने उठाए सवाल, कहा- सरकार के बड़े मंत्रियों ने क्यों नहीं लगवाई वैक्सीन

Image
तीसरे चरण का परिक्षण पूरा किए बिना ही भारत बॉयोटेक की कोवैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति मिल गई है। जिसके बाद 16 जनवरी से लोगों को कोवैक्सीन के टीके लगना शुरु हो गए हैं। जिसको लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने सवाल खड़े करते हुए कहा कि सरकार के बड़े मंत्रियों ने पहले टीका क्यों नहीं लगवाया। कांग्रेस नेता ने कहा, “हर मुल्क में जहां पर टीकाकरण शुरू हुआ, वहां के मुखिया ने सबसे पहले टीका लगवाया। ताकि देश को ये संदेश जाए कि ये टीका सु'- रक्षित है और ये आपकी हि'- फाजत करेगा। इंग्लैंड में बोरिस जॉनसन ने सबसे पहले टीका लगवाया। उनकी संवैधानिक हेड ने टीका लगवाया। बाकी मुल्कों में भी यही प्रक्रिया अपनाई गई है”। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा, “तो एक बुनियादी सवाल ये उत्पन्न होता है कि अगर ये टीका इतना ही सुरक्षित है, इतना ही कारगर है तो अभी तक इस सरकार के कोई जिम्मेदार मंत्री सामने क्यों नहीं आए कि सबसे पहले मुझे टीका लगाओ। जिससे लोगों में ये संदेश जाए कि ये टीका पुरी तरह से सुरक्षित है”। मनीष तिवारी ने वैक्सीनों के इस्तेमाल को मंज़ूरी दिए जाने पर सवाल ख

बालाकोट स्ट्राइक की तरह क्या अर्नब को पुलवामा ह'मले की भी जानकारी थी? इसलिए जांच नहीं हुई

Image
ली'- क हुई चैट बताती है कि पुलवामा में 40 जवानों की श'- हादत से अर्नब गोस्वामी खुश थे| उनका कहना था कि “This  we have won like crazy”. 40 जवानों की श'- हादत पर ये क्रैजी होकर उत्सव मना रहे थे| ये वही गोस्वामी हैं जो राष्ट्रभक्ति और देशद्रोह का प्रमाणपत्र बांटते फिरते हैं| बालाकोट की उन्हें पहले से जानकारी थी कि कुछ बड़ा होने वाला है, ऐसा कि लोग प्रफुल्लित हो जाएंगे. बालाकोट पर वे कहते हैं, “it’s good for the big man he will win the elections”. वे मोदी के लिए खुश थे कि वे चुनाव जीतेंगे| वे अपने लिए खुश थे कि उनकी टीआरपी बढ़ गई| वे दुखी नहीं थे| वे टीआरपी और चुनावी बढ़त का जश्न मना रहे थे| पुलवामा ह'- मले में देश के 40 जवान शहीद हुए थे| 40 परिवार बे'- सहारा हुए थे| जवानों के पोस्टर लगाकर चुनाव में वोट मांगे गए थे| उस समय जिन्होंने सवाल उठाया था, उन्होंने गा'- ली खायी थी| ह'- मले की जांच क्यों नहीं हुई? अर्नब गोस्वामी को बालाकोट ऑपरेशन के बारे में पहले से कैसे पता था? क्या उन्हें पुलवामा के बारे में भी पता था? क्या पुलवामा एक सोची समझी चुनावी चा'- ल थी? पुल

बाइडन ने कश्मीरी मूल की समीरा फाज़ली को बनाया नेशनल इकोनॉमिक काउंसिल का डिप्टी डायरेक्टर

Image
अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन अपनी टीम का लगातार विस्तार कर रहे हैं। इसी कड़ी में उन्होंने अपनी टीम में एक और कश्मीरी मूल की महिला को जगह दी है। उन्होंने अब मूलरूप से कश्मीर की रहने वाली समीरा फाज़ली को नेशनल इकोनॉमिक काउंसिल का डिप्टी डायरेक्टर नियुक्त किया है। इससे पहले उन्होंने कश्मीरी मूल की महिला आइशा शाह को अपनी प्रशासनिक टीम में शामिल किया। शाह को व्हाइट हाउस की डिजिटल स्ट्रेटेजी टीम में मुख्य पदाधिकारियों में से एक के रूप में चुना गया है। यह पहली बार है कि अमेरिकी राष्ट्रपति के प्रशासन में कश्मीरी मूल की दो-दो महिलाओं को अहम ज़िम्मेदारी सौंपी गई है। इससे कश्मीर के लोगों विशेषकर महिलाओं में भी उत्साह है। उम्मीद जताई जा रही है कि फाज़ली की नियुक्ति से निर्माण, नवाचार और घरेलू प्रतिस्पर्धा में सुधार होगा। इससे पहले फाज़ली अटलांटा के फेडरल रिजर्व बैंक में निदेशक पद रह चुकी हैं। यहां पर उन्होंने सामुदायिक और आर्थिक विकास के लिए काम किया। इसके अलावा फाज़ली घरेलू वित्त और अंतर्राष्ट्रीय मामलों के ट्रेजरी विभाग में भी सेवा दे चुकी हैं। फाज़ली अपने पति और तीन बच्चों के साथ जॉ

मुंबई पुलिस ने किया ख़ु'लासा, TRP बढ़ाने के लिए अर्नब ने BARC CEO को दी थी रि'- श्वत

Image
रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ़ अर्नब गोस्वामी की मुश्किलें बढ़ती नज़र आ रही हैं। TRP घो'- टाला केस की जांच कर रही मुंबई पुलिस ने दावा किया है कि अर्नब गोस्वामी ने अपने चैनल की TRP बढ़ाने के लिए ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) के पूर्व सीईओ दासगुप्ता को रि'- श्वत दी थी। पुलिस ने ये दावा अर्नब और दासगुप्ता के बीच कथित वॉट्सऐप चैट के ह'वाले से किया है। पुलिस ने इस चैट को स'बूत के तौर पर भी पेश किया है। हालांकि पुलिस ने घू'- स देने वाली चैट को अपनी सप्लीमेंट्री चार्जशीट में शामिल नहीं किया है। दोनों के बीच बातचीत का डेटा ऑनलाइन भी लीक हुआ है। जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। चैट में अर्नब गोस्वामी ने कई मौकों पर दासगुप्ता की तरफ से राजनीतिक नेतृत्व से मध्यस्थता करने का प्रस्ताव भी दिया है। दिलचस्प बात तो ये है कि दोनों के बीच हुई चैट में प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) से लेकर सूचना प्रसारण राज्यमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ तक का नाम लिया गया है। इसमें जुलाई 2017 की एक चैट में दासगुप्ता ने अर्नब को टीआरपी का डेटा तक भेजा है। पुलिस ने इसी चैट के ह'वाले से

अर्णब का WhatsApp चैट ली'- क, प्रशांत भूषण बोले- अर्णब को जेल भे'- जने के लिए ये चैट काफ़ी

Image
रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्णब गोस्वामी के कथित व्हाट्सएप चैट का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहा है। इसमें अर्णब बार्क के पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता से टीआरपी रेटिंग को लेकर बातचीत कर रहे हैं। इस चैट लीक की तुलना लोग राडिया टेप से कर रहे हैं और अर्णब के ख़िलाफ़ सख़्त का'- र्रवाई किए जाने की मांग कर रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने अपने ट्विटर हैंडल से अर्णब के इस चैट के स्क्रीनशॉट को साझा करते हुए उनपर ज़ोरदार ह'- मला बोला है। उन्होंने अर्णब पर आ'- रोप लगाते हुए कहा कि अर्णब अपने पद का ग'- लत प्रयोग कर रहे हैं और राजनीतिक में अपनी पहचान का इस्तेमाल व्यक्तिगत फ़ा'- यदे के लिए कर रहे हैं। प्रशांत भूषण ने लिखा, “यह बार्क के सीईओ और अर्णब गोस्वामी के बीच हुए बातचीत के ली'- क स्नैपशॉट्स हैं। इन स्क्रीनशॉट से अर्णब गोस्वामी की राजनीतिक में पहुंच और तमाम सा'- जिशों का पता लगता है”। उन्होंने आगे लिखा, ‘साथ ही यह भी पता लगता है कि किस तरीके से मीडिया और अपनी पोजीशन का बतौर दु'- रुपयोग किया गया।’वरिष्ठ अ'- धिवक्ता ने

अ'- वैध शराब बनाने के आरोप में भाजपा नेत्री गि'रफ्तार, महिला मोर्चा की अध्यक्ष हैं ललिता राजे

Image
बीते दिनों मध्य प्रदेश के मुरैना से ज'- हरीली शराब पीकर 20 लोगों के  खबर सामने आई थी। जिसके बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुरैना के डीएम और एसपी पर कड़ी कार्यवाही करते हुए उन्हें पद से ब'- र्खास्त कर दिया। लेकिन इसके बावजूद प्रदेश में ज'- हरीली शराब बनाने का काम चल रहा है। अब मध्य प्रदेश के शिवपुरी से एक बड़ी खबर सामने आई है। खबर के मुताबिक, राज्य के आबकारी विभाग और पुलिस की संयुक्त टीम ने पोहरी कस्बे के कटरा मोहल्ले और नया गांव की बंजारा बस्ती में  शराब ब'- नाकर बेचने के आरोप में भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष ललिता राजे को गि'- रफ्तार किया है। बताया जाता है कि पुलिस को इस मामले में किसी ने गु'- प्त सूचना दी थी। जिसके आधार पर भाजपा नेत्री के घर पर छा'- पेमारी की गई। इस छा'- पेमारी के दौरान बड़ी मात्रा में  शराब ब'- नाने में इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री  ज'ब्त की गई है। पुलिस ने भाजपा नेत्री के घर से 34 लीटर ज'- हरीली शराब बरामद की है। जिसके बाद पुलिस ने भाजपा नेत्री के खिलाफ धारा 34 और 49 के तहत मामला दर्ज कर गि'- र

जो मोदी सरकार 60 अन्नदाता की श'- हादत से श'र्मिंदा नहीं हुई वो अब ट्रैक्टर रैली से श'र्मिंदा हो रही है

Image
केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीनों कृषि कानूनों के खि'- लाफ कल सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा अगले आदेश तक तीनों कृषि कानूनों पर रोक लगा दी गई है। लेकिन सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद किसानों ने इस आं'- दोलन को रोकने से इंकार कर दिया है। आज किसान आं'- दोलन का 49 वां दिन चल रहा है। दरअसल बीते डेढ़ महीने से चल रहे इस किसान आंदोलन में अब तक 60 से ज्यादा किसानों ने अपनी गवां दी है। उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड में किसान डटकर अपने अधिकारों के लिए ल'- ड़ रहे हैं। दरअसल किसान संगठनों द्वारा 26 जनवरी के दिन प्रस्तावित ट्रैक्टर मार्च निकाले जाने पर रोक लगाने के लिए केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। याचिका में केंद्र सरकार ने कहा है कि गणतंत्र दिवस के समारोह को बा'- धित करने के लिए इस तरह के मार्च निकाले जाने से देश को श'- र्मिंदगी उठानी पड़ सकती है। गौरतलब है कि वि'- पक्षी दलों ने किसान आं'- दोलन में रहे किसानों को लेकर पहले भी कई बार चिंता जाहिर की है। राहुल गांधी भाजपा द्वारा लाई गई इन दिनों कृषि कानूनों के वि'-