पूर्व IAS ने राष्ट्रपति को लिखा पत्र, कहा- योगी की ता'- नाशाही से ‘उत्तर प्रदेश’ को बचा लीजिए

यूपी में अभिव्यक्ति की आ'- जादी का पतन हो चुका है। नैतिक मूल्यों का पतन हो चुका है। सरकारी तं'- त्रों का पतन हो चुका है। रिटायर्ड आईएएस अधिकारी सूर्य प्रताप सिंह ने इस मुद्दे को लेकर देश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को पत्र लिखकर अपनी चिंता जाहिर की है। रिटायर्ड आईएएस ने अपने पत्र में लिखा है कि उत्तर प्रदेश आज देश का एक ऐसा प्रदेश बन गया है जहां पर अभिव्यक्ति की आजादी और सरकारी तंत्र का पतन हो चुका है और ये सब मैं अपनी आंखों से देख रहा हूं।

मैंने इस मामले को लेकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को पत्र लिखा है और मुझे उम्मीद है कि इस पर ध्यान दिया जाएगा। सूर्यप्रताप सिंह कहते हैं कि आज उत्तर प्रदेश में प्रत्यक्ष को भी प्रमाण की आवश्यक्ता पड़ने लगी है। इस प्रदेश में सच बोलना और सच लिखना दोनों ही किसी अ'- पराध से कम नहीं है। मीडिया को भी पूरी तरह से बं'- धक बना लिया गया है। छात्र प्र'- दर्शन करने से डर रहे हैं| वहीं गरीब जनता पर सरकारी जु'- ल्म भी अपनी पराकाष्ठा पर है।

रिटायर्ड आईएएस ने आरोप लगाया है कि यूपी में आज जो भी हो रहा है, वो अघोषित आ'- पातकाल है, ता'- नाशाही है, तुगलकी राज है। आज यूपी का हाल यह है कि अगर कोई भी पत्रकार अगर सरकारी व्यवस्था पर सवाल उठाता है तो उस पर मुकदमा कर दिया जाता है। कोई पत्रकार अगर सवाल पूछ ले तो उस मीडिया संस्थान का विज्ञापन बंद कर दिया जाता है।

Popular posts from this blog

बाबा रामदेव की नई नौटंकी हाथी पर चढ़कर योगा कर रहे थे, गि'- रे नीचे कराई फजीहत - वीडियो वायरल

दूरदर्शन चैनल की एंकर सलमा सुल्ताना का ये 1984 का विडियो आज के एंकरों के लिए सबक और मिशाल

लाईव डिबेट में संबित पात्रा ने फिर करायी अपनी बेइज्जती अभिनेत्री ने कहा हराम*- खोर: देखे वीडियो